Tuesday, March 10, 2015

अटल पेंशन योजना

अटल पेंशन योजना



अटल पेंशन योजना

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) नरेंद्र मोदी सरकार की विशेष असंगठित क्षेत्र के कामगारों के लिए महत्वाकांक्षी सामाजिक सुरक्षा योजना है जिसकी घोषणा वित्तमंत्री अरूण जेटली ने 2015 के आम बजट में की. यह योजना एक जून से लागू होगी और पूर्ववर्ती सरकार की स्वावलंबन योजना एनपीएस लाईट की जगह लेगी.
इस योजना के अंशधारक 60 साल की आयु के बाद कम से 5000 रुपए मासिक पेंशन के हकदार होंगे. लोगों को इस योजना के प्रति आकर्षित करने के लिए सरकार ने अंशधारका के योगदान की 50 प्रतिशत राशि या 1000 रुपए प्रति साल का अंशदान जो भी कम हो अपनी तरफ से करने की घोषणा की है. यह अंशदान पांच साल के लिए 2015—16 से लेकर 2019—20 तक करेगी.
अब सवाल है कि स्वावलंबन योजना के मौजूदा अंशधारकों का क्या होगा? तो वे नयी योजना यानी अटल पेंशन योजना के लागू होने पर स्वत: ही उसमें विलय हो जाएंगे. हां अगर वे इससे हटना चाहते हैं तो यह उनकी मर्जी पर निर्भर करेगा. इस योजना में 18 साल से 40 साल की आयु में ही जुड़ा जा सकता है और कम से कम 20 साल अंशदान करना जरूरी होगा.
सरकार के सहयोगी अंशदान का फायदा उन्हीं अंशधारकों को ​मिलेगा जो 31 दिसंबर 2015 तक इस योजना से जुड़ते हैं. इसके तहत 60 साल की बाद से अंशधारकों को 1000 रुपए से 5000 रुपए की पेंशन मिलेगी जो कि उनके अंशदान के अनुसार तय होगी.

No comments:

Post a Comment